गुलशेर ख़ाँ शानी हिन्दी कहानियाँ

गुलशेर ख़ाँ शानी
Gulsher Khan Shaani
 Hindi Kavita 

गुलशेर ख़ाँ शानी

गुलशेर ख़ाँ (ख़ान) शानी (16 मई 1933-10 फरवरी 1995) हिंदी के उच्च कोटी के लेखक, कथाकार और उपन्यासकार हैं । उनका जन्म जगदलपुर (मध्य प्रदेश) में हुआ। उन्होंने कई पत्र-पत्रिकायों की सम्पादना भी की। उनकी रचनायें हैं; उपन्यास: काला जल, कस्तूरी, पत्थरों में बंद आवाज, एक लड़की की डायरी, साँप और सीढ़ी, फूल तोड़ना मना है, नदी और सीपियाँ; कहानी संग्रह: बबूल की छाँव, छोटे घेरे का विद्रोह, एक से मकानों का नगर, एक नाव के यात्री, यु, शर्त का क्या हुआ, बिरादरी, सड़क पार करते हुए, जहाँपनाह जंगल; संस्मरण: शाल वनों का द्वीप; निबंध संग्रह : एक शहर में सपने बिकते हैं; संपादन: साक्षात्कर, समकालीन भारतीय साहित्य, कहानी (तीनों महत्वपूर्ण साहित्यिक पत्रिकाएँ)। उनकी रचनायों का और भाषायों में भी अनुवाद किया गया है।

Hindi Stories Gulsher Khan Shaani

 
 
 Hindi Kavita