गौतम बुद्ध
Gautama Buddha
 Hindi Kavita 

गौतम बुद्ध

गौतम बुद्ध (563 ईसा पूर्व–483 ईसा पूर्व) को महात्मा बुद्ध, भगवान बुद्ध, सिद्धार्थ व शाक्यमुनि नाम से भी जाना जाता है । वह श्रमण थे जिनकी शिक्षाओं पर बौद्ध धर्म का प्रचलन हुआ उनका जन्म लुंबिनी में इक्ष्वाकु वंशीय क्षत्रिय शाक्य कुल के राजा शुद्धोधन के घर में हुआ था। उनकी माँ का नाम महामाया था जो कोलीय वंश से थीं, जिनका इनके जन्म के सात दिन बाद निधन हुआ, उनका पालन महारानी की छोटी सगी बहन महाप्रजापती गौतमी ने किया। सिद्धार्थ विवाहोपरांत एक मात्र प्रथम नवजात शिशु राहुल और धर्मपत्नी यशोधरा को त्यागकर संसार को जरा, मरण, दुखों से मुक्ति दिलाने के मार्ग एवं सत्य दिव्य ज्ञान की खोज में रात्रि में राजपाठ का मोह त्यागकर वन की ओर चले गए। वर्षों की कठोर साधना के पश्चात बोध गया (बिहार) में बोधि वृक्ष के नीचे उन्हें ज्ञान की प्राप्ति हुई और वे सिद्धार्थ गौतम से भगवान बुद्ध बन गए।

गौतम बुद्ध से संबंधित कहानियाँ

जीवन परिचय
अछूत कौन ?
अंगुलिमाल और गौतम बुद्ध
अमरत्व का फल
अमृत की खेती
आम्रपाली और महात्मा बुद्ध
उत्तम व्यक्ति कौन ?
कठोर वचन
कन्या अछूत नहीं
कल्याण मित्र
कोमलता की पराकाष्ठा
गालियों का प्रभाव
चरित्रहीन
जिसकी जैसी भावना
धैर्य
परिश्रम के साथ धैर्य भी
पूजा का तरीका
बिना नींव का मकान
बीता हुआ कल
बुद्ध, आम और बच्चे
बुद्ध और नालागिरी हाथी
मछुआरा बना चित्रकार
मन का मैल
मृत्यु के उपरान्त क्या ?
वृक्ष का सम्मान
विश्वास व श्रद्धा
सबसे बड़ी कला
सिद्धार्थ और हंस
सुख की नींद
गिलहरी और बुद्ध
इच्छाशक्ति
उपाली और महात्मा बुद्ध
सुख क्या है
गांठ
सबसे बड़ा दान
खुद की पहचान करो
मौन का महत्त्व

Stories related to Gautama Buddha

Biography
Achhoot Kaun ?
Amaratva Ka Phal
Amarpali Aur Mahatma Buddha
Amrit Ki Kheti
Angulimal Aur Gautam Buddha
Beeta Hua Kal
Bina Neenv Ka Makaan
Buddha Aam Aur Bacche
Buddha Aur Nalagiri Hathi
Charitraheen
Dhairya
Galiyon Ka Prabhav
Jiski Jaisi Bhavana
Kalyan Mitra
Kanya Achhoot Nahin
Kathor Vachan
Komalta Ki Prakashtha
Machhuara Bana Chitrakar
Man Ka Mail
Mrityu Ke Uprant Kya ?
Parishram Ke Saath Dhairya Bhi
Pooja Ka Tarika
Sabse Badi Kala
Siddhartha Aur Hans
Sukh Ki Neend
Uttam Vyakti Kaun ?
Vishwas Va Shradha
Vriksh Ka Sammaan
Gilahri Aur Buddha
Ichchhashakti
Upali Aur Mahatama Buddha
Sukh Kya Hai
Gaanth
Sabse Bada Daan
Khud Ki Pehchan Karo
Maun Ka Mahattav